Communal Tension in Varanasi as Hindu Extremists allegedly attack Church

Written by CJP | Published on: October 3, 2018

FB of Pravik Kumar Dubey

Tension mounted in the holy town of Kashi-Varanasi, also the electoral constituency of prime minister Narendra Modi as a reported attack on a Church in the centre of town at Godhaliya was mounted. Questionable and provocative facebook posts clearly identify the mobilisation and planning behind the attack. These photographs uploaded on Rakesh Chhetri's Facebook post are self revelatory. (See FB Posts Below). Facebook became the playground for vicious sentiments. It is to be seen whether this vast social media platform acts against this hate mongering or whether the Adityanath administration acts to tell Facebook to act.

Pravin Dubey Hindu gloated, " Priest of the Godaulia Church, today the Hindu Yuva Shakti made you Flee."

गांधी 150वी जयंती के दिन माहौल खराब करने की कोशिश
                 
अमन पसंद लोग जहा एक तरफ बनारस मे महात्मा गांधी की 150वी जयंती माना रहे थे वही सांप्रदायिक शक्तिया अपना काम कर रही थी । बनारस मे गोदोलिया मे स्थित  एक पुराने चर्च के अंदर तोड़ फोड़ कर रहे थे । चर्च के फादर से बदसलूकी व हिंसा इसलिए हिंदुवादी संगठन के लोग कर रहे थे क्यूकि ये अफवाह थी की धर्मपरिवर्तन क काम चर्च मे हो रहा था ।  

Meanwhile aajexpress has carried this Video acompanied by this report:

वाराणसी। जहां एक और तमाम धर्म गुरु जाति-धर्म से ऊपर उठ कर आपसी भाईचारे के साथ रहने के लिए लोगों को प्रेरित कर रहे हैं, वहीं पीएम नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र काशी में मंगलवार को युवक और युवती को फुसलाकर धर्म परिवर्तन करने के लिए करने के लिए डाइवर्ट किए जाने मामला सामने आया।

शहर केएक चर्च में पांडेयपुर निवासी युवक को बहला-फुसलाकर धर्म परिवर्तन कराने का प्रयास किया गया। जब युवक ने इस बात की जानकारी अपने घर वालों को दी मौके पर उसके परिजन और हिंदू संगठन से जुड़े कुछ लोग पहुंचे। सारा मामला जानने के बाद लोगों ने चर्च के बाहर जमकर हंगामा किया। मामले की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने किसी प्रकार लोगों को समझा-बुझा कर शांत कराया।

इस बीच पता चला कि दो दिन पहले दो युवतियों को भी माइंड वास कर धर्म परिवर्तन कराया गया है। धर्म परिवर्तन कराने के एवज में युवाओं को पैसे की लालच भी दी जा रही है। हालांकि इस मामले पर पुलिस अधिकारी फिलहाल कुछ भी करने को तैयार नहीं है। पांडेयपुर निवासी युवक घर पर झगड़ा होने के बाद गिरजाघर चौराहे पर एक चाय की दुकान पर बैठा था। युवक ने बताया कि इस दौरान उसके पास एक व्यक्ति आया और उससे बातचीत करने के बाद धर्म परिवर्तन करने की बात कही। धर्म परिवर्तन के एवज में उसे 20 हजार नकद और अच्छी जिंदगी जीने की सलाह दी। युवक ने जब इस बात की जानकारी अपने परिजनों को दी तो उसके परिवार के साथ अन्य लोग वहां पहुंचे।
युवक को धर्म परिवर्तन करने के लिए प्रेरित करने वाला व्यक्ति वहां से चला गया। मामले की जानकारी लेने के बाद लोग वही हंगामा करने लगे। इस मामले में स्थानीय पुलिस का कहना है कि शाम 6:00 बजे तक थाने पर तहरीर नहीं दी गई थी। यदि कोई मुकदमा दर्ज कराता है तो करवाई की जाएगी।
AAJExpress claims that similar attacks have taken place at Azamgarh and Jaunpur too.

जौनपुर, आजमगढ़ में भी इस तरह का मामला आ चुका है सामने
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र काशी में इस तरह का मामला सामने आने से पहले सूबे के जौनपुर और आजमगढ़ जिले में इस तरह का मामला सामने आ चुका है। आजमगढ़ वाले प्रकरण में जांच अभी जारी है जबकि जौनपुर वाले मामले में एक थानेदार को थाना प्रभारी के पद से लापरवाही बरतने पर हटा दिया गया था।




Here is another:



The threatening language and violence behind these posts is brazen.