रोहित वेमुला को इंसाफ के लिए मार्च निकाल रहे छात्रों पर पुलिस का कहर

Published on: January 18, 2017
नई दिल्ली। आज पूरे देश में दलित छात्र रोहित वेमुला को याद किया जा रहा है। 'रोहित वेमुला अमर रहे' के नारे भी लगाए जा रहे हैं। इस क्रम में जवाहरलाल नेहरू विश्व विद्यालय छात्र संगठन के छात्रों ने मार्च निकाला। दिल्ली के मंडी हाउस में छात्रों को मार्च निकालते देख दिल्ली पुलिस ने उन पर लाठियां भांज दीं। रोहित वेमुला के लिए निकाले गए मार्च में जेएनयू के सैकड़ों छात्रों ने भाग लिया था।  

Rohith vemula Protest

दलित छात्र रोहित वेमुला हैदराबाद विश्वविद्यालय में शोधार्थी थे। उन्होंने 17 जनवरी 2016 को आत्महत्या कर ली थी। उन्होंने विश्वविद्यालय प्रशासन की प्रताड़ना से तंग आकर आत्महत्या कर ली थी। दरअसल दलित छात्र रोहित वेमुला अंबेडकरवादी विचारधारा के समर्थक थे। रोहित वेमुला जातिवाद और सम्प्रदायवाद के खिलाफ आवाज़ उठाते थे। 
 
विश्वविद्यालय प्रशासन को ये बात ठीक नहीं लगी। और वो रोहित को प्रताड़ित करने लगे। विश्वविद्यालय की ओर से मिलने वाली सारी सुविधाएं बंद कर दी गईं, वो किसी भी कार्यक्रम में भाग नहीं ले सकते थे। उन्हें हॉस्टल से भी निकाल दिया गया। 17 जनवरी 2016 को रोहित ने आत्महत्या कर ली थी। लोगों ने इसे सांस्थानिक हत्या माना और देश भर में विरोध प्रदर्शन हुए।

Courtesy: National Dastak